Victory of precious metals over other currencies in March 2021 Swastika
अमेरिका और चीन मे तनाव से कीमती धातुओं को सपोर्ट।

अमेरिका और चीन मे तनाव से कीमती धातुओं को सपोर्ट।

करीब एक महीने के सबसे तेज साप्ताहिक उछाल के साथ सराफा बाजार में सोने के भाव शुक्रवार को सीधे दूसरे दिन भी उंचाई पर पहुंच गए।  बांड पैदावार में कमी, अमेरिकी डॉलर मे कमजोरी, और बिटकॉइन में -4% की ऊपरी स्तरों से गिरावट से कीमती धातुओं को फायदा हो रहा है।

कॉमेक्स में जून वायदा सोना गुरुवार को 1.8% की बढ़त के बाद शुक्रवार को 1% तक तेज़ हुआ और 1784 डॉलर प्रति औंस के स्तरों को छुआ। सप्ताह के लिए, सोना 1.8% तेज़ हुआ, जो कि 19 मार्च के बाद से इसकी सबसे बड़ी साप्ताहिक तेज़ी को दर्शाता है।

10-वर्षीय ट्रेजरी नोट 1.57% पर है, जो इसकी हालिया सीमा 1.60% और 1.75% के निचे है। सरकारी ऋण पैदावार में गिरावट से कीमती धातुओं के लिए निवेश की मांग बढ़ी है।  इस बीच, अमेरिकी डॉलर इंडेक्स, शुक्रवार को  -0.14% गिरकर 91.542 पर पहुंच गया है। डॉलर सप्ताह में  0.7% और अप्रैल में 1.8% टूटा है।

एक कमजोर डॉलर विदेशी खरीदारों को डॉलर में आंकी गई संपत्ति को अधिक आकर्षक बना सकता है। बाजार सहभागियों के मुताबिक चीन और रूस के साथ बढ़ते अमेरिकी तनाव ने कीमती धातु की सुरक्षा अपील को बढ़ावा देने में मदद की है। ताइवान पर अमेरिका और चीन के बीच तनाव बढ़ गया है, और बिडेन प्रशासन ने गुरुवार को कुछ रूसी राजनयिकों को निष्कासित कर दिया है। पिछले साल के राष्ट्रपति चुनाव में रूस के हस्तक्षेप के प्रतिशोध में आंशिक रूप से दर्जनों लोगों और कंपनियों के खिलाफ प्रतिबंधों की घोषणा की है।

तकनिकी विश्लेषण
इस सप्ताह कीमती धातुओं मे तेज़ी रह सकती है। घरेलु वायदा सोने मे 47500 रुपये पर प्रतिरोध है और 46600 रुपये पर सपोर्ट है। चाँदी मे 70500 रुपये पर प्रतिरोध तथा 67800 रुपये पर पसपोर्ट है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *