साहसी बूल्स निफ़्टी को 18500 के स्तर की ओर बढ़ा रहे हैं | Swastika Blog - Share Market Updates, Latest News and Expert's Tips | Swastika Investmart Ltd (Swastika Investmart) Swastika

साहसी बूल्स निफ़्टी को 18500 के स्तर की ओर बढ़ा रहे हैं

हम एक अनोखा बुल रन देख रहे हैं, जहां महंगाई और बढ़ती बॉन्ड यील्ड की सभी चिंताओं को नजरअंदाज करते हुए बूल्स 18500 के स्तर की ओर बढ़ रहे हैं, वही हमने लंबे समय से कोई बड़ी गिरावट नहीं देखी है।
इस बुल रन का सबसे दिलचस्प हिस्सा यह है कि यह संस्थागत निवेशकों के प्रवाह की परवाह नहीं कर रहा है जहा पिछले सप्ताह नेट संस्थागत निवेश नेगेटिव रहा वही निफ्टी ने पिछले सप्ताह के प्रत्येक कारोबारी सत्र में अपनी नई ऊंचाई  को छुआ तथा 2.5% की साप्ताहिक बढ़त के साथ अपने उच्चतम स्तर पर समाप्त हुआ।
FII ने केवल 1037 करोड़ रुपये की बाजार में खरीददारी की जबकि DII ने 3296 करोड़ की बिकवाली की, इसलिए संसस्थागत निवेशकों द्वारा नेट 2259 करोड़ रुपये की बिक्री हुई। बाजारों में परिस्थिति बदल रही है और हम रिटेल  निवेशकों की ताकत देख रहे हैं क्योंकि एसआईपी मार्ग के साथ-साथ डायरेक्ट इक्विटी मार्ग के माध्यम से रिकॉर्ड इनफ्लो हो रहा है।
ये इनफ्लो पिछले बुल रनों की तुलना में ज़्यादा मज़बूत दिख रहा हैं क्योंकि इन निवेशकों का दीर्घकालिक दृष्टिकोण है और हर गिरावट पर खरीदारी के रुख के साथ शार्ट टर्म अस्थिरता से निपटने के लिए तैयार हैं, हालांकि इन निवेशकों के स्वभाव की वास्तविक परीक्षा थोड़े बड़े करेक्शन में होगी क्योंकि अभी तक नए निवेशकों ने बाजार में कोई बड़ी मुनाफावसूली नहीं देखी है।
क्या कहता है डेरीवेटिव डेटा?
अगर हम डेरिवेटिव डेटा के बारे में बात करे तो इंडेक्स फ्यूचर में FII का लॉन्ग एक्सपोजर 67% है, जबकि पीसीआर 1.53 मार्क पर है, जो बाजार में कम्फर्टेबले लेवल का संकेत देता है, हालांकि 21 अक्टूबर की एक्सपायरी के लिए ओपन इंटरेस्ट पोजीशन बिखरी हुई है, जहां पर कॉल ऑप्शन में OI 18500-19000 की रेंज में है जबकि पुट ऑप्शन के लिए यह 18300-18000 जोन है।
टेक्निकल आउटलुक
टेक्निकल  चार्ट पर 18500 एक तत्काल और मनोवैज्ञानिक रेजिस्टेंस है, जबकि 18700 एक अपस्लोपिंग ट्रेंडलाइन रेजिस्टेंस होगा। वही दूसरी तरफ, 18250  एक तत्काल सपोर्ट स्तर है जबकि 18000 -17950  किसी भी मुनाफावसूली पर महत्वपूर्ण सपोर्ट जोन होगा।
निफ़्टी के मुकाबले बैंकनिफ्टी बेहतर प्रदर्शन कर रहा है और 40000 के महत्वपूर्ण रेजिस्टेंस को टेस्ट कर सकता है और 39000-38800 का क्षेत्र तत्काल और मजबूत सपोर्ट क्षेत्र बन गया है जबकि 38100-37900  महत्वपूर्ण  सपोर्ट  क्षेत्र होगा।
सेक्टर परफॉरमेंस
IT  सेक्टर अंडरपरफॉर्म कर सकता है क्योंकि यह लोअर हाई और लोअर लो फॉर्मेशन बना रहा है जबकि मेटल सेक्टर नए हाई के तरफ बढ़ सकता है । पीएसयू बैंक भी आने वाले दिनों में अपनी मजबूती जारी रख सकते हैं।
अगले सप्ताह के संकेत
अगर अगले सप्ताह के संकेतों की बात करें तो सितम्बर के तिमाही नतीजे बाजार पर हावी रहेगी जहां बाजार सोमवार को एचडीएफसी बैंक और एवेन्यू सुपरमार्ट्स (डी-मार्ट) की कमाई पर बाजार रियेक्ट करेंगे , साथ ही अल्ट्राटेक सीमेंट, एसीसी, एचयूएल, नेस्ले, एशियन पेंट्स, जेएसडब्ल्यू स्टील, एचडीएफसी लाइफ, और रिलायंस इंडस्ट्रीज सप्ताह के दौरान अपने तिमाही नतीजे घोषित करेगी ।
तिमाही नतीजे  के अलावा अन्य ग्लोबल संकेत महत्वपूर्ण होंगे जहां ग्लोबल बाजारों ने एक करेक्शन के बाद अच्छा प्रदर्शन करना शुरू किया है। कमोडिटी की बढ़ती कीमतें अभी भी चिंता का विषय हैं लेकिन बाजार फिलहाल इस तथ्य पर विचार नहीं कर रहा है। डॉलर इंडेक्स और यूएस बॉन्ड यील्ड थोड़ी ठंडी हुई लेकिन आने वाले दिनों में बाजार की नजर इस पर होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *